New Delhi: रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने 1971 के युद्ध में भारत की जीत की याद में विजय दिवस के अवसर पर राष्ट्रीय युद्ध स्मारक पर पुष्पांजलि अर्पित की.

0

रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने 16 दिसंबर, 2022 को विजय दिवस के अवसर पर नई दिल्ली में राष्ट्रीय युद्ध स्मारक पर पुष्पांजलि अर्पित की। रक्षा मंत्री के साथ रक्षा राज्य मंत्री, अजय भट्ट, चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ जनरल अनिल चौहान, वायु सेना प्रमुख एयर चीफ मार्शल वीआर चौधरी, थल सेना प्रमुख जनरल मनोज पांडे, रक्षा, सचिव गिरिधर अरमने और नौसेना के उप प्रमुख वाइस एडमिरल एसएन घोरमडे ने 1971 के युद्ध में बहादुरी से लड़ कर राष्ट्र सेवा में अपना जीवन न्यौछावर करने वाले सशस्त्र बलों के जवानों को श्रद्धांजलि दी।

आगंतुक पुस्तिका में अपने संदेश में रक्षा मंत्री ने लिखा: “राष्ट्र उन बहादुरों का ऋणी रहेगा जिन्होंने राष्ट्र की संप्रभुता की रक्षा करते हुए सर्वोच्च बलिदान दिया। हम उनके आदर्शों और मूल्यों के साथ विकास की राह पर आगे बढ़ते रहेंगे

इससे पहले राजनाथ सिंह ने एक ट्वीट में 1971 के युद्ध को अमानवीयता पर मानवता की जीत, दुराचार पर सदाचार और अन्याय पर न्याय की जीत बताया था। अपने संदेश में रक्षा राज्य मंत्री, अजय भट्ट ने लिखा: "युद्ध में पाकिस्तान की हार और बांग्लादेश की मुक्ति स्वतंत्रता और लोकतंत्र के मूल्यों को बनाए रखने के लिए भारत की प्रतिबद्धता का प्रमाण है।

चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ जनरल अनिल चौहान ने लिखा: "हमारे सशस्त्र बल हमारी मातृभूमि के लिए अधिक से अधिक सफलता व गौरव का कार्य करते रहें और राष्ट्र निर्माण में अथक योगदान दें।

Post a Comment

0Comments
Post a Comment (0)